अंतस के उद्गार

@ शान्ति मन्त्रः- @"ॐ द्यौः शान्तिरन्तरिक्षम् शान्तिः पृथिवी शान्तिरापः शान्तिरोषधयः शान्तिः। वनस्पतयः शान्तिर्विश्वे देवाः शान्तिर्ब्रह्म शान्तिः सर्वम् शान्तिः शान्तिरेव शान्तिः सा मा शान्तिरेधि।।ॐ शान्तिः शान्तिः शान्तिः।"

विचार

हमारी जिन्दगी के दो ही दिन सबसे ज्यादा अहम् होते हैं…

1. जिस दिन हम पैदा हुए थे.
2. जिस दिन हम मरने वाले हैं.

‪#‎सत्य‬

Advertisements
टिप्पणी करे »

खुशियां

“खुशियां बांटने से ही खुशियां मिलती हैं….
छीनकर तो आपको पलभर की खुशी के बदले जीवन भर के दु:ख मिलेंगे…|”
.
@ सत्य @

टिप्पणी करे »

%d bloggers like this: